Sun, 25 Feb 2018 | 09:34 AM
News

सरकारी एजेंसी ने जरूरी दवाओं की नई मूल्य सीमा तय की

दवाओं के मूल्य नियंत्रण करने वाली सरकारी एजेंसी ने कुछ जरूरी दवाओं की नई मूल्य सीमा तय करने का फैसला किया है। नैशनल फार्मासूटिकल प्राइसिंग अथॉरिटी (एनपीपीए) ही वह सरकारी एजेंसी है जो जरूरी दवाओं के मूल्य को नियंत्रित करती है। डायबीटीज, टीबी और मलेरिया जैसी बिमारियों की दवाओं और ऐंटिबायॉटिक समेत अन्य ३० दवाओं के मूल्य में करीब २५-३० फीसदी कम होने की आशंका हैं। सूत्रों के मुताबिक केंद्र में नई सरकार आने के बाद पिछले एक साल में दवाओं के दाम में काफी गिरावट आई है। अपने लेटेस्ट ऑर्डर में एनपीपीए ने यह भी कहा है कि अगर किसी दवा की कीमत रेग्युलेटर द्वारा निर्धारित सीमा से कम है तो इस तरह की दवा बेचनी वाली कंपनियां मौजूदा या सबसे कम खुदरा मूल्य चार्ज कर सकती हैं।

News

सेबी ने पीएसीएल को निवेशकों का ४९१०० करोड़ रुपया लौटाने का आदेश जारी किया

News

गिरावट के बाद बाजार में बदला रुख,दर्ज की गई तेजी....

News

शेयर बाजार में तेजी का रुझान....

View All